चंडीगढ़।

लंबे समय से पाकिस्तान के प्रति प्रेम दिखा रहे पंजाब सरकार के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने एक और कारनामा किया है। मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह द्वारा शहीद जयमल सिंह के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए ड्यूटी लगाए जाने के बाद भी सिद्ध हुआ नहीं पहुंचे। सही जयमल सिंह का अंतिम संस्कार मोगा में हुआ था लेकिन नवजोत सिंह सिद्धू मोगा जाने की वजह लुधियाना गए और वहां की नगर निगम के कार्यक्रम में शामिल हुए।

सोनी टेलीविजन ने पुलवामा हमलों के बाद नवजोत सिंह सिद्धू के बयान को देखते हुए उन्हें अपने टीवी शो में से भी निकाल दिया है। सिद्धू को मोगा जाने का समय भले ही ना मिला हो लेकिन लुधियाना में उन्होंने प्रेस से भरपूर बातचीत की। सिद्धू ने कहा कि 4 आतंकियों की हरकत से दोनों देशों के बीच बातचीत और करतारपुर कॉरिडोर को खोलने का जो प्रयास शुरू हुआ है, वो बंद नहीं किया जाना चाहिए। सिद्धू ने कहा कि जो लोग उनके खिलाफ बोल रहे हैं वो भी खुद पाकिस्तान में उनके साथ ही करतारपुर कॉरिडोर खुलने के कार्यक्रम के दौरान बैठे थे। नवजोत सिंह सिद्धू का इशारा केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल की तरफ था। उन्होंने कहा कि मैं तो पाकिस्तान से कई न्यौते आने के बाद ही पाकिस्तान गया था। लेकिन हमारे प्रधानमंत्री तो बिना किसी न्यौते के ही पाकिस्तान पहुंच गए थे।

इसके आगे नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि उन्होंने जो बयान दिया था कि आतंकवाद का कोई मजहब या देश नहीं होता उसे गलत तरीके से पेश किया गया। उनके बयान की सिर्फ एक ही लाइन दिखाई जा रही है। जबकि अगर उनका पूरा स्टेटमेंट सुना जाए, तो उन्होंने कहा कुछ और था जिसका मतलब गलत तरीके से दिखाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *