कंज्यूमर प्रोटक्शन बिल 2019 लोकसभा में हुआ पास

फ्लिपकार्ट अमेजॉन जैसी ई कॉमर्स कंपनियां भी आएंगी दायरे में

नई दिल्ली. यदि आप अमिताभ बच्चन प्रियंका चोपड़ा शाहरुख खान रितिक रोशन विराट कोहली या सचिन तेंदुलकर जैसे सितारों के विज्ञापन से प्रभावित होकर कोई से वाया सामान खरीदते हैं और वह सेवा या समान उस गुणवत्ता की नहीं निकलती,  जिसका दावा इन सितारों ने अपने विज्ञापन में किया था तो आप उस कंपनी के साथ इन सितारों को भी कंजूमर कोर्ट में घसीट सकेंगे।

प्रस्तावित कंजूमर प्रोटेक्शन बिल 2019 यही कहता है। मंगलवार को लोकसभा ने इसे पारित कर दिया है अब राज्य सभा की स्वीकृति से यह कानून का रूप ले लेगा। इस प्रस्तावित बिल की खास बात यह है कि इसमें अमेजॉन, फ्लिपकार्ट, मिंत्रा जैसी सभी ई-कॉमर्स कंपनियों को भी इसके दायरे में लाया गया है। अब इन कंपनियों के खिलाफ भी उपभोक्ता स्थानीय कोर्ट में परिवार पेस्ट कर सकेंगे और कोर्ट भी इनकी सुनवाई कर सकेगी। हालांकि बिल में स्वास्थ्य सुविधाओं को सेवा ना मानने को लेकर विपक्षी सदस्यों ने आपत्तियां दर्ज करायी हैं।

 बनेगी सेंट्रल कंजूमर प्रोटेक्शन अथॉरिटी

 
बिल के बारे में जानकारी देतेे हुए उपभोक्ता मामलोंं के मंत्री श्री रामविलास पासवान ने कहा कि उपभोक्ताओं केेे संरक्षण के लिए इस बिल में सेंट्रल कंस्यूमर प्रोटेक्शन अथॉरिटी का प्रावधान किया गया है। ये एथॉरिटी उपभोक्ताओं के एधिकारों को संरक्षित करने तथा कानून का पालन सुनिश्चित कराने के लिए काम करेगी। श्री पासवान ने कहा कि इसका काम उपभोक्ताओं को अनुचित व्यापार व्यवहार (unfair trade practice) से बचाना भी होगा। विपक्ष ने इस अधिकरण को संघीय ढ़ींचे के विरुद्ध बताया है। अब ये बिल राज्य सभा में पेश किया जाएगा।

ReplyForward

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *