बैंगलौर.

बार बार कक्षा में मोबाइल का उपयोग न करने के निर्देश दिए जाने के बाद भी स्टूडेंट्स के न मानने के कारण बेंगलौर के एक कॉलेज में प्रिंसीपल ने स्टूडेंट्स के मोबाइल जब्त किए और कुछ मोबाईल को स्टूडेंट्स के सामने ही हथौड़े से तोड़ दिए। इस घटना का एक वीडियो भी सामने आया है। घटना गुरुवार का बताई जा रही है।

बार बार कक्षा में मोबाइल का उपयोग न करने के निर्देश दिए जाने के बाद भी स्टूडेंट्स के न मानने के कारण बेंगलौर के एक कॉलेज में प्रिंसीपल ने स्टूडेंट्स के मोबाइल जब्त किए और कुछ मोबाईल को स्टूडेंट्स के सामने ही हथौड़े से तोड़ दिए। इस घटना का एक वीडियो भी सामने आया है। घटना गुरुवार का बताई जा रही है।

MES Chaitanya PU College में पहले से ही कक्षा में मोबाइल का उपयोग करने पर प्रतिबंध लगाया गया था। इसमें कहा गया था कि यदि स्टूडेंड्स क्लास में मोबाईल का उपयोग करते पाए गए तो मोबाईल को वहीं तोड़ दिया जाएगा। लेकिन इसका स्टूडेंट्स पर कोई असर नहीं हो रहा था। कॉलेज प्रशासन ने कई बार इस मामले में स्टूडेंट्स को चेतावनी भी दी थी लेकिन ये वेअसर रही तो गुरुवार को प्रिंसीपल आरएम भाट क्लास में पहुंचे और स्टूडेंट्स की तलाशी ली। स्टूडेंट्स के पास से उन्होंने कुल 16 मोबाईल जब्त किए। इसके बाद उन्होंने क्लास में ही हथौड़ा मंगाया और कुछ मोबाईल तो स्टूडेंट्स के सामने ही फोड दिए। कॉलेज प्रशासन ने कहा कि स्टूडेंट्स लेक्चर को दौरान ही एक-दूसरे को मोबाईल से मैसेज भेजते रहते थे।

Karnataka Associated Managements of English Medium Schools के सचिव डी शशिकुमार ने क्लास में मोबाईल की समस्या के बारे में बोलते हुए कहा कि क्लास में मोबाईल का उपयोग करने की समस्या स्कूलों में भी नियंत्रण से बाहर होती जा रही है। इस मामले में पैरेंट्स ने देखना चाहिए कि बच्चे स्कूल कौन सी प्रतिबंधित वस्तुएं लेकर जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *