भोपाल। पिछली 17 सितंबर को जब राहुल गांधी कैलाश मानसरोवर की यात्रा से लौटकर भोपाल आए थे, उस समय वे शिव भक्त थे। लेकिन करीब साढ़े 4 महीने बाद जब प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बन चुकी हैवह एक बार फिर भोपाल आ रहे हैं। लेकिन इस बार कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने उन्हें रामभक्त बताया है। भोपाल के जंबूरी मैदान पर होने वाली राहुल गांधी की रैली के प्रचार प्रसार के लिए भोपाल को पोस्टर और बैनरों से पाट दिया गया है। चेतक ब्रिज के पास लगे हुए पोस्टर में, जिस पर प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ को हनुमान भक्त और गौ भक्त के रूप में दिखाया गया है, लिखा है कि “अयोध्या में सर्वसम्मति से भव्य राम मंदिर बनवाएंगे ऐसे रामभक्त राहुल गांधी का झीलों की नगरी भोपाल में स्वागत है।”

यानी कि पिछले साढ़े चार महीनों में राहुल गांधी ने शिवभक्त से रामभक्त होने तक का सफर तय कर लिया है। इस मुद्दे पर कांग्रेस का कहना है कि कुछ उत्साही कार्यकर्ताओं ने इस तरह के पोस्टर बैनर लगाएं हैं। वहीं भारतीय जनता पार्टी का कहना है कि इस तरह के पोस्टर लगा देने से कांग्रेस की हिंदू विरोधी छवि नहीं मिटने वाली।  राहुल गांधी भोपाल के जंबूरी मैदान में शुक्रवार को किसानों की एक रैली को संबोधित करेंगे। माना जा रहा है कि इस मौके पर कमल नाथ प्रदेश सरकार से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण घोषणाएं भी कर सकते हैं। इसे मध्यप्रदेश में कांग्रेस के लोकसभा चुनाव अभियान की शुरुआत भी माना जा रहा है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *