Goonj

Voice of the Students of India

भाजपा नेता के वैक्सीन प्रमाणपत्र में पांच खुराक दर्ज, छठी बार के लिए भी दी तारीख

मेरठ

कोविड-19 के वैक्सीन को लेकर यूपी से एक अजीब मामला सामने आया है। यहां पर एक भाजपा नेता को कोविड के पांच वैक्सीन दिए जाने का प्रमाणपत्र जारी किया गया है। इतना ही नहीं इस प्रमाण पत्र में छठी खुराक की तिथि भी दी गई है। यह मामला इन नेताजी ने स्वयं संज्ञान में लाया है।

मेरठ जिले के सरधना इलाके के भाजपा नेता रामपाल सिंह ने कोविड-19 टीके की दो खुराक ली थीं। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि उनके नाम पर जारी प्रमाणपत्र में उन्हें तीन बार में पांच खुराक लगना दर्शाया गया है। साथ ही छठी खुराक की संभावित तिथि भी पर्चे पर लिखी गई है।

जानकारी के अनुसार सरधना नगर के मोहल्ला धर्मपुरी निवासी रामपाल सिंह (73) ने संक्रमण से बचाव के लिए टीके की दोनों खुराक ले ली है, लेकिन स्वास्थ्य विभाग ने उनके नाम पर जो प्रमाणपत्र जारी किया है, उसमें तीन बार में पांच खुराक लगना दर्शाया गया है। साथ ही छठी खुराक की संभावित तिथि भी पर्चे पर लिखी गई है। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग पर लापरवाही का आरोप लगाया है।

रामपाल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संगठन हिन्दू युवा वाहिनी में नगर संयोजक के साथ नगर में भाजपा के 79 नम्बर बूथ के अध्यक्ष भी हैं। उन्होंने बताया कि 16 मार्च को पहला और आठ मई को दूसरा टीका लगवाया।

रामपाल सिंह ने कहा कि उन्होंने कोरोना वैक्सीनेशन के पोर्टल से अपना ऑनलाइन प्रमाणपत्र दिखवाया, यहां उन्हें पता चला कि उन्हें दो बार नहीं, बल्कि पांच बार टीका लगना दिखाया गया है। साथ ही छठा टीका आठ दिसंबर 2021 से जनवरी 2022 के बीच में लगवाने के लिए तिथि दी गई हैं।

इस मामले में मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ.अखिलेश मोहन का कहना है कि टीके की दो खुराक के लिए पोर्टल पर पंजीकरण किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि यह पहला मामला है जिसमें एक ही व्यक्ति का छह बार टीका लगाने के लिए पंजीकरण हो गया. उन्होंने घटना को किसी की शरारत बताया है।

error: Content is protected !!