23rd February 2024

देश में 2014 के बाद से अब तक बढ़ीं MBBS की 97% सीटें

पीजी की बढ़ी 110 प्रतिशत सीटें, इस राज्य में बढ़ी सर्वाधिक सीटें

नई दिल्ली.

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय में राज्य मंत्री भारती प्रवीण पवार ने आज संसद में बताया कि 2014 में देश में 387 मेडिकल कॉलेज थे। जो अब बढ़कर 660 हो गए हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार के दौरान मेडिकल कॉलेजों में 71 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। संसद में सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि उनकी सरकार में एमबीबीएस की सीटों में 97 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है।

पवार के मुताबिक 2014 से पहले के 51,348 से अब तक 101,043 मेडिकल सीटें हैं। जिनमें 52,778 सरकारी मेडिकल कॉलेजों में उपलब्ध हैं और बाकी 48,265 सीटें निजी मेडिकल कॉलेजों में उपलब्ध हैं।

उन्होंने कहा कि देशभर में मेडिकल की पीजी सीटों में 110 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। देश में 2014 से पहले 31,185 सीटें थी। लेकिन अब 65,335 सीटें हो गई हैं। पीजी की कुल सीटों में 13,246 डिप्लोमेट ऑफ नेशनल बोर्ड (DNB) / फैलोशिप ऑफ नेशनल बोर्ड (FNB) के तहत हैं। जबकि 1621 पीजी सीटें फिजिशियन और सर्जन कॉलेज में हैं।

तमिलनाडु में हैं सबसे ज्यादा एमबीबीएस की सीटें
तमिलनाडु- 11225
कर्नाटक- 11020
महाराष्ट्र- 10295
उत्तर प्रदेश- 9253
तेलंगाना -7415
गुजरात -6600
आंध्र प्रदेश- 5635
राजस्थान -5075
पश्चिम बंगाल- 4825
मध्य प्रदेश -4180

इधर, चिकित्सा शिक्षा विभाग, उत्तर प्रदेश ने आज राज्य सरकार द्वारा संचालित मेडिकल कॉलेजों में 1,300 नई एमबीबीएस सीटें जोड़ने की घोषणा की है। 2023-24 शैक्षणिक वर्ष से 13 नए मेडिकल कॉलेज शुरू होंगे। आपको बता दें कि नीट यूजी के लिए अभी रजिस्ट्रेशन किए जा रहे हैं। जो अभ्यर्थी नीट यूजी के लिए रजिस्ट्रेशन करना चाहते हैं, वे ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर 6 अप्रैल तक आवेदन कर सकते हैं।

error: Content is protected !!