20th July 2024

97 प्रतिशत भारतीयों की है भगवान में आस्था

हिंदुओं की तुलना में मुस्लिमों में नास्तिको की संख्या ज्यादा, सर्वेक्षण में आया सामने

हाल ही में धर्म और भगवान के अस्तित्व को लेकर हुए सर्वेक्षण में चौंकाने वाला तथ्य सामने आया है। जहां हम यह मानते थे कि मुसलमानों में धर्म के प्रति श्रद्धा का भाव हिंदुओं की तुलना में अधिक होता है यह सर्वेक्षण इस मान्यता को चुनौती देता है। इस सर्वेक्षण के अनुसार 2% हिंदू भगवान के अस्तित्व को स्वीकार नहीं करते हैं वही मुसलमानों में ऐसा मानने वालों की संख्या 6% है यानी कि हिंदुओं से 3 गुना अधिक। 

हालांकि सर्वेक्षण के अनुसार सबसे ज्यादा नास्तिक लोगों की संख्या बुद्ध धर्म में पाई गई है। बौद्ध धर्म को मानने वाले 33% लोग ईश्वर के अस्तित्व पर विश्वास नहीं करते हैं। 

सर्वेक्षण को देखें तो भारत में तीन प्रतिशत लोगों को भगवान में विश्वास नहीं है। वही भगवान में कम विश्वास करने वालों की संख्या 17% है। इस हिसाब से देखे तो भारत की 80% जनता ईश्वर में आस्था रखती है। जहां तक नास्तिकों की बात करें तो जैन धर्म में नास्तिकों की संख्या सबसे कम केवल एक प्रतिशत है तो वही क्रिश्चियन व हिंदू धर्म इस मामले में दो प्रतिशत की संख्या के साथ दूसरे स्थान पर हैं। 

सर्वेक्षण के अनुसार 79% मुस्लिम की धर्म में आस्था है। 12% की धर्म में आस्था तो है लेकिन उनकी आस्था पक्की नहीं है यह लोग वे हैं जो ईश्वर के अस्तित्व को न तो पूरी तरह से ना करते हैं न पूरी तरह से स्वीकार करते हैं, वहीं 6% मुसलमान ऐसे हैं जिनका यह मानना है कि ईश्वर है ही नहीं। 

वही हिंदू धर्म में 80% लोगों की आस्था ईश्वर में है तो वहीं 18% लोगों को लगता है कि ईश्वर हो भी सकता है और नहीं भी। केवल दो प्रतिशत हिंदुओं का मानना है कि ईश्वर का कोई अस्तित्व नहीं है। 

क्रिश्चियन धर्म की बात करें तो वहां पर 78% लोग ईश्वर में आस्था रखते हैं लेकिन 20% इनके अस्तित्व पर सवाल उठाते हैं और 2% का मानना है कि ईश्वर नाम की कोई सत्ता नहीं है। 

सिख धर्म को मानने वालों में 82% लोगों को ईश्वर में आस्था है। 12% का मानना है कि ईश्वर हो भी सकते हैं और नहीं भी वही 6% लोगों का मानना है कि ईश्वर नाम की कोई सत्ता नहीं है। 

बौद्ध धर्म को मानने वाले लोगों में केवल 43% का मानना है कि ईश्वर का अस्तित्व है तो वही 23% का मानना है कि ईश्वर हो भी सकता है और नहीं भी। वही इस सर्वेक्षण के हिसाब से हर तीसरा बौद्ध यह मानता है कि ईश्वर का अस्तित्व नहीं है। 

सर्वेक्षण के निष्कर्ष के तौर पर इस रिपोर्ट में बताया गया है कि भारत मुख्य रूप से एक धार्मिक देश है क्योंकि यहां पर 97% लोग किसी न किसी रूप में भगवान के अस्तित्व कुछ स्वीकार करते हैं चाहे वह काम हो या ज्यादा। 

किसने किया ये सर्वेक्षण ? 

यह सर्वेक्षण Pew Research center ने किया है यह दुनिया में लोगों के बीच मुद्दे राय तथा दृष्टिकोण में आ रहे बदलाव को लेकर अध्ययन करता है। यह एक वैश्विक संगठन है इसके प्रमुख माइकल डिमॉक हैं। इस संगठन के पास 160 कर्मचारी व 11 रिसर्च टीम हैं। यह संस्थान 1990 से इस काम में लगा है। 

इस सर्वेक्षण के आधार पर दुनिया में सबसे बड़ा एक्स मुस्लिम चैनल चलाने वाले एक्स मुस्लिम साहिल ने दावा किया है कि भारत में 1.20 करोड़ मुसलमान इस्लाम छोड़ चुके हैं। साहिल का कहना है कि ये भले ही सर्वेक्षण हो लेकिन इसे खारिज नहीं किया जा सकता है क्योंकि ये वैसा ही सर्वेक्षण है जैसे कि चुनाव के समय किए जाते हैं।

error: Content is protected !!