बवाल के बाद सोशल मीडिया से हटाई, कांग्रेस ने उठाए सवाल

मुंबई.

कोरोना से बुरी तरह प्रभावित महाराष्ट्र में पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़नवीस एक बार फिर चर्चा में है। कांग्रेस ने उनके युवा भतीजे तन्मय का कोरोना वैक्सीन लेते हुए फोटो ट्वीच किया है और 45 साल से कम उम्र होने के बावजूद तन्मय के वैक्सीन लगवाने पर सवाल उठाया है।

कांग्रेस ने नागपुर के कैंसर इंस्टिट्यूट में वैक्सीन लगवाते हुए तन्मय का फोटो पोस्ट किया है। बताया जा रहा है कि यह फोटो स्वयं तन्मय ने अपने सोशल मीडिया पर पोस्ट किया था लेकिन बाद में इस पर बवाल मचने के बाद इसे डिलीट किया गया है।

क्या केवल भाजपाईयों का जीवन महत्वपूर्ण

फड़नवीस का भतीजा तन्मय इंजीयनियर है और उसने वैकसीन का पहला डोज मुंबई लिया था। लेकिन जो फोटो सोशल मीडिया पर पोस्ट की गई वो नागपुर में लगावाए गए वैक्सीन के दूसरे डोज की है। इस फोटो पर कांग्रेस ने सवाल उठाया है कि जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 45 साल से अधिक के लोगों को पहले वैक्सीन दिए जाने का नियम बनाया तो ऐसे में 45 साल से कम उम्र के तन्मय को वैक्सीन कैसे लगाया जा सकता है? यह सवाल भी उठाया गया है कि क्या केवल भाजपा नेताओं के परिजनों का जीवन महत्वपूर्ण है? आम जनता का क्या?

शिवसेना एमलसी रही है तन्मय की मां

तन्मय से इस बारे में सपंर्क नहीं हो पाया है लेकिन इस मामले में उनके पिता अभीजीत फड़नवीस ने कोई बात करने से मना कर दिया। अभिजीत देवेन्द्र फड़नवीस के चचेरे भाई हैं। उनकी पत्नी यानी तन्मय की मां शोभा फड़नवीस 90 के दशक में शिवसेना से विधान परिषद सदस्या (एमएलसी) थीं तथा वो मंत्री भी रही हैं। सोमवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने एक मई से 18 साल से अधिक आयु के सभी लोगों को वैक्सीन दिए जाने की घोषणा की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!