5th December 2022

कोरोना के वैक्सीन का इंदौर कनेक्शन

जिस वैक्सीन का मनुष्य पर हो चुका है ट्रॉयल जानिए उसका इंदौर से संबंध

इंदौर.

ब्रिटिश यूनिवर्सिटी ऑक्सफोर्ड में कोरोना के वैक्सीन का मनुष्य पर ट्रायल हो गया है। और अब तक के इसके परिणाम संतोषजनक हैं। इस वैक्सीन का बाजार में आना सितंबर तक तय होगा। लेकिन इस वैक्सीन का एक इंदौर कनेक्शन भी है। इस वैक्सीन के ट्रायल में जो कंपनी शामिल है उलका इंदौर से भी नाता है। इस वैक्सीन के सफल होने पर यही कंपनी इसे बाजार में उतारेगी।

इस कंपनी की नाम एस्ट्रा जेनेका है और इसका इंदौर से यह संबंध है कि यह कंपनी इंदौर में अपने कुछ उत्पादों का तीसरे चरण का ट्रायल कर चुकी है। इस कंपनी ने कुल मिलाकर इंदौर में तीन ट्रॉयल किए हैं और ये ट्रॉयल जून 2020 तक चलते रहे हैं। इनमें से दो ट्रॉयल डायबिटीज की दवा के थे तो तीसरा ट्रॉयल किडनी की दवा का था। और खास बात ये है कि यह ट्रॉयल पुराने नहीं हैं। इनमें से दो ट्रॉयल 2019 और 2020 में समाप्त हुए हैं। ये ट्रॉयल 2017 में प्रारंभ हुए थे।

कोरोना के वैक्सीन का पहला ट्रॉयल जिस पर हुआ, उसके मरने की पोस्ट वाइरल

दरअसल कंपनी भारत के कई राज्यों में ट्रॉयल करती है। मध्य प्रदेश भी इनमें से एक है। इंदौर में किए गए तीनों ही ट्रॉयल की अनुमति कंपनी ने अमेरिकी सरकार से ली थी।

पहला ट्रॉयल 30-10-15 को प्रारंभ हुआ था और 26-12-2016 तक चला था। इसमें भारत में पाई जाने वाली टाईप-2 डायबिटीज में मेटफॉर्मिन के बाद सेक्साग्लिप्टीन दिए जाने का मरीज पर होने वाले प्रभाव का अध्ययन किया गया था। ये अध्ययन भारत में  50 स्थानों पर कुल 1500 मरीजों पर करने की तैयारी की गई थी । हर केंद्र पर तीस मरीजों पर यह अध्ययन किया गया था। इन्हीं 50 स्थानों में  से इंदौर भी एक है।

दूसरा ट्रॉयल भी डायबिटीज की दवा का है। इसमें भी  ये ट्रॉयल 11 दिसंबर 2017 से शुरू होकर 14 जून 2019 को समाप्त हुआ था।  इसके लिए भी कंपनी ने एक हजार स्थानों पर पचास हजार लोगों पर दवा के असर का अध्ययन किया जाना था। इसमें एक स्थान इंदौर भी था। यहां पर 100 लोगों पर इस दवा के असर का  अध्ययन किया गया था। 

तीसरा ट्रॉयल किडनी की दवा का था। इसे 2 फरवरी 2017 से शुरू होकर 27 नवंबर 2020 तक चलना था लेकिन इसके बारे में जानकारी दी गई है कि इस वापस ले लिया गया है।

 तीनों ही अध्ययन के परिणाम अब तक रिपोर्ट नहीं किए गए हैं। एस्ट्रा जेनेका का मुख्यालय बैंगलोर में है और इंदौर में भी इसका एक कार्यालय है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!