Goonj

Voice of the Students of India

जिसे ट्रायल के लिए कोरोना का वैक्सीन लगाया उसे हुई अज्ञात बीमारी, जानसन एंड जानसन ने रोका ट्रायल

जॉनसन एंड जॉनसन ने सोमवार को स्वीकार किया है कि उसने कोरोना वैक्सीन का ट्रायल रोक दिया है। किसके पीछे उस मरीज का अचानक बीमार होना बताया जा रहा है जिसे ट्रायल के लिए वैक्सीन लगाया गया था। कंपनी ने अपने बयान में कहा है कि यह ट्रायल अस्थाई रूप से रोका गया है क्योंकि इसके तृतीय चरण में भाग लेने वाले एक पार्टिसिपेंट में अज्ञात बीमारी देखी गई है।

इसके साथ ही कंपनी ने वैक्सीन के ट्रायल के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन को भी बंद कर दिया है। कंपनी स्टाइल के लिए 60000 मरीजों का पंजीयन करना चाहती थी। कंपनी ने यह भी कहा है कि इस तरह की गंभीर प्रतिकूल परिस्थितियां बड़े क्लिनिकल ट्रायल हिस्सा होती हैं। ट्रायल रोके जाने का कारण बताते हुए कंपनी ने कहा है कि इस बात की जांच की जानी है कि मरीज में जो बीमारी देखी गई है उसका संबंध वैक्सीन से है या नहीं। 

कंपनी ने सितंबर में इस ट्रायल के लिए पंजीयन शुरू किए थे। यह ट्रायल अमेरिका और उसके आसपास 200 वेबसाइट के जरिए किए गए थे।जॉनसन एंड जॉनसन के ट्रायल्स अर्जेंटीना, ब्राजील, चिली, कोलंबिया, मेक्सिको, पेरू और साउथ अफ्रीका में चल रहे हैं।

error: Content is protected !!