5th December 2022

हिंदू महिला ने जिसे राखी बांध कर बनाया ‘भाई’, उसी ने जबरन किया निकाह

मामला पाकिस्तान की रीना मेघवार का


कराची

पाकिस्तान में हिन्दुओं की स्थिति कितनी भयावह है यह किसी से छिपा नहीं है। आए दिन हम नाबालिग हिन्दू लड़कियों के अपहरण और उनके जबरन निकाह के मामले सुनते हैं। लेकिन इस बार जो मामला सामने आया है वो इस मायने में सब से अलग है कि हिन्दू महिला से राखी बंधवाकर भाई बनने वाला उसका अपहरण कर जाली दस्तावेजों से उससे जबरन निकाह कर रहा था। हालांकि ये महिला खुश किस्मत रही कि उसे पुलिस ने बरामद कर लिया और कोर्ट ने उसे उसके मातापिता को सौंप दिया। पाकिस्तान में जबरिया निकाह का शिकार होने वाली हर लड़की इतनी खुशकिस्मत नहीं होती है।

पाकिस्‍तान के सिंध प्रांत में हिंदू महिला रीना मेघवार को कोर्ट के आदेश पर उनके माता-पिता को सौंप दिया गया है। रीना मेघवार ने रक्षाबंधन के मौके पर अपने पड़ोस में रहने वाले कासिम काशखेली को राखी बांधकर से उसे अपना ‘भाई’ बनाया था। बाद में इसी ‘भाई’ की नीयत खराब हो गई और उसने रीना का अपहरण कर उन्‍हें जबरन इस्‍लाम कबूल कराया और निकाह कर लिया। रीना लगभग पांच महीने तक कासिम के कब्जे में रही। लेकिन एक दिन मौका देखकर उसने ने दुनिया से मदद की गुहार लगाई और देखते ही देखते उनका वीडियो वायरल हो गया।

इस तरह से विश्व के मानवाधिकार संगठनों और लोगों का दबाव बढ़ने पर पाकिस्‍तानी अदालत ने रीना मेघवार को उनके माता-पिता को सौंपने का आदेश दिया है। आरोप यह भी है कि महिला को प्रताड़ित किया गया और कासिम काशखेली ने जाली दस्तावेजों के आधार पर उससे शादी कर उसे मुस्लिम दिखाया। रीना का 13 फरवरी को कासिम काशखेली ने दक्षिणी सिंध प्रांत के बदीन जिले के केरिओगजर इलाके से अपहरण कर लिया था।

परिवार को मारने की धमकी दी

रीना का वीडियो कुछ दिनों पहले सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था जिसमें वह कह रही है, ‘कृपया मुझे मेरे माता-पिता के पास भेज दो, मुझे जबरन लाया गया है। मुझे गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी गई है और कहा गया है कि मेरे माता-पिता व भाइयों को मार डाला जाएगा।’

हालांकि, उसने वीडियो में धमकी देने वाले किसी भी व्यक्ति का नाम लेने से इनकार कर दिया। सिंध सरकार ने वीडियो का संज्ञान लेते हुए पुलिस जांच का आदेश दिया, जिसके बाद बदीन के एसएसपी शबीर अहमद सेथर ने एक दल का नेतृत्व किया और काशकेली के घर से हिंदू लड़की को बरामद किया था।

रीना मेघवार को सोमवार को बदीन की एक स्थानीय सत्र अदालत में पेश किया गया, जहां उसने एक बयान में कहा कि उसने इस्लाम कबूल नहीं किया था और आरोपी ने मुस्लिम महिला के रूप में उससे जबरन शादी करने के लिए झूठे दस्तावेज तैयार किए थे।

अदालत ने उसका बयान दर्ज करने के बाद पुलिस को आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज करने का आदेश दिया। अधिकारियों की उपस्थिति में मेघवार को उसके माता-पिता को सौंप दिया गया। उसने न्यायाधीश को यह भी बताया कि आरोपी ने उसके साथ अनुचित व्यवहार किया और उसके भाई की जान को खतरा है।

धर्म परिवर्तन के खिलाफ सिंध उच्च न्यायालय में अपील

वहीं, आरोपी के परिवार का दावा है कि मेघवार ने इस साल फरवरी में अपना घर छोड़ दिया और कथित तौर पर काशखेली से शादी कर ली और अपना नाम बदलकर मरियम कर लिया। एसएसपी सेथर ने कहा कि लड़की के माता-पिता ने पहले आरोपी के खिलाफ पुलिस रिपोर्ट दर्ज कराई थी और अपहरण व जबरन धर्म परिवर्तन के खिलाफ सिंध उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था।

उन्होंने कहा कि मेघवार ने उच्च न्यायालय के सामने दावा किया था कि उसने स्वेच्छा से काशखेली से शादी की थी, जिसके बाद उसके कथित पति के खिलाफ प्राथमिकी रद्द कर दी गई। उन्होंने कहा, ‘लेकिन उसके नवीनतम वीडियो ने हमें कार्रवाई करने के लिए प्रेरित किया और आज उसने कहा कि वह अपने माता-पिता के पास वापस जाना चाहती है क्योंकि आरोपी के पास जाली दस्तावेज थे और उसने इस्लाम में धर्मांतरण नहीं किया था।’

1 thought on “हिंदू महिला ने जिसे राखी बांध कर बनाया ‘भाई’, उसी ने जबरन किया निकाह

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!