28th November 2022

निजी यूनिवर्सिटी में स्टूडेंट्स ने फुटबॉल मैदान में पढ़ी नमाज, हुआ विवाद

नमाज पढ़ने वाले स्टूडेंट्स अफ्रीकी देशों के, मामला गुड़गांव का 

गुरुग्राम

सोहना गुड़गांव रोड स्थित जीडी गोयनका यूनिवर्सिटी में 8-10 छात्रों के एक समूह द्वारा फुटबॉल मैदान में नमाज पढ़ने का मामला सामने आया है। यह घटना पिछले सप्ताह की है लेकिन इसका वीडियो अब सामने आया है। इसके चलते छात्रों ने अभी इसका विरोध करते हुए यूनिवर्सिटी रजिस्ट्रार के पास शिकायत दर्ज कराई है। इसे लेकर शुक्रवार को यूनिवर्सिटी में आधे घंटे तक हंगामा होता रहा और छात्रों ने जय श्रीराम के नारे लगाए। 

G D Goenka university campus

बताया जा रहा है कि नमाज पढ़ने वाले छात्र भारतीय नहीं हैं। वे नाइजीरिया और इथोपिया के रहने वाले हैं। वे यूनिवर्सिटी के फुटबॉल मैदान में खेल रहे थे और उसी दौरान उन्होंने वहीं पर नमाज पढ़ ली। 

लगभग 20 छात्रों के एक समूह ने कल इसके विरोध में नारेबाजी की उनका कहना था कि नमाज या तो हॉस्टल रूम में पढ़ी जानी चाहिए या फिर इन छात्रों को मस्जिद जाना चाहिए। इस तरह से खुले में नमाज पढ़ना गलत है। यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार धीरेंद्र सिंह परिहार ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि छात्रों ने खुले में नमाज पढ़ने के खिलाफ एक शिकायत दर्ज कराई है। उन्होंने बताया कि नमाज पढ़ने वाले छात्रों को समझा दिया गया है कि वे या तो अपने हॉस्टल रूम में नमाज पढ़े या फिर मस्जिद जाएं। 

नमाज के लिए दिया गया है रूम

जीडी गोयनका यूनिवर्सिटी में नमाज का विरोध करने वाले छात्रों ने आरोप लगाया है कि यूनिवर्सिटी प्रशासन ने इन छात्रों को नमाज पढ़ने के लिए एक अलग से रूम उपलब्ध कराया है। रजिस्ट्रार परिहार ने इसे गलत बताते हुए कहा कि यूनिवर्सिटी ने इन छात्रों को नमाज के लिए कोई रूम नहीं दिया है। परिहार ने यह भी कहा कि विरोध करने वाले छात्र किसी भी छात्र संगठन से जुड़े हुए नहीं हैं। 

इस मामले में 30 अगस्त को रजिस्ट्रार को शिकायत दर्ज कराई गई थी शिकायत में नमाज के अलावा यह भी कहा गया है कि हॉस्टल रूम में वेज और नॉनवेज प्लेट को अलग-अलग वर्गीकृत किया जाना चाहिए और इन दोनों को मिलाया नहीं जाना चाहिए। 

error: Content is protected !!