23rd February 2024

पिछले एक वर्ष में संघ की 8534 शाखाएं बढ़ीं

प्रतिनिधि सभा में पेश किया गया प्रतिवेदन

पानीपत। 

हरियाणा के पानीपत में 12 मार्च से शुरू हुई संघ की प्रतिनिधि सभा की बैठक मैं शाखाओं का वृत्त रखा गया है इसके हिसाब से पिछले एक वर्ष में संघ कार्य में उल्लेखनीय वृद्धि हुई है। शाखाओं की बात करें तो 2022 में जहां देश में 60117 शाखाएं लग रही थीं वहीं 2023 में यह 8534 बढ़कर 68651 हो गई हैं। प्रतिशत के हिसाब से यह वृद्धि 14% की है। 

प्रतिनिधि सभा में प्रस्तुत प्रतिवेदन के आधार पर शाखाओं की संख्या

इसी तरह की वृद्धि मिलन, मंडली और स्थानों में भी देखी गई है। 

2022 में 20826 साप्ताहिक मिलन लग रहे थे वहीं 2023 में इनकी संख्या 6051 बढ़कर 26877 हो गयी है। मिलन साप्ताहिक शाखा होती है यह उन स्थानों पर लगाए जाते हैं जहां पर संघ के नियमित शाखा नहीं चलती है। भविष्य में इन मिलन को शाखाओं में परिवर्तित कर दिया जाता है। 

इसी तरह से 2022 में 37903 स्थानों पर शाखाओं की गतिविधियां चल रही थी जो कि 2023 में बढ़कर 42613 हो गई है। बताया गया है कि शाखा और स्थानों की संख्या में यह अंतर इसलिए है क्योंकि एक ही स्थान पर प्रातः और सायं की शाखाएं भी लगती हैं। इसके चलते शाखाओं की गिनती अधिक है और स्थानों की कम।

प्रतिवेदन के अनुसार 2022 में संघ मंडलियों की संख्या 7980 थी जो कि 2023 में बढ़कर 10412 हो गई है। प्रतिनिधि सभा की बैठक 14 मार्च तक चलेगी और इसके अंतिम दिन प्रतिनिधि सभा में प्रस्ताव पारित किया जाएगा। 

error: Content is protected !!