28th November 2022

दिसंबर तक कॉलेज से पूरी फीस वापस ले सकेंगे स्टूडेंट्स

यूजीसी ने फर्स्ट ईयर स्टूडेंट के लिए 2020-21 का एकेडमिक कैलेंडर जारी किया

नई दिल्ली

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग जनी यूजीसी ने शैक्षणिक सत्र 2020 21 के लिए फर्स्ट ईयर स्टूडेंट का एकेडमिक कैलेंडर जारी कर दिया है। इसकी खास बात यह है कि मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा है कि नवंबर तक प्रवेश रद्द कराने वाले छात्रों को शत-प्रतिशत फीस वापस की जाएगी। इस कैलेंडर के मुताबिक इस बार प्रवेश प्रक्रिया 31 अक्टूबर तक चलेगी और इस तरह से संभावित रूप से प्रथम वर्ष के छात्रों के लिए सत्र की शुरुआत नवंबर से होगी।

UGC Acadmic calender 2020-21

एकेडमिक कैलेंडर जारी करते हुए यूजीसी ने स्वीकार किया है कि इस बार की देरी का असर अगले सत्र पर भी पड़ेगा। एकेडमिक कैलेंडर के बारे में जानकारी देते हुए मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान परिजनों को आर्थिक परेशानियां झेलना पड़ रही है। इसके चलते दिसंबर तक प्रवेश रद्द कराने वाले स्टूडेंट्स को पूरी फीस वापस की जाएगी। कॉलेज छात्रों से अधिकतम ₹1000 की प्रोसेसिंग फीस की कटौती कर सकेंगे।


इसके पहले यूजीसी ने अप्रैल महीने में एक संभावित एकेडमिक कैलेंडर जारी किया था जिसमें कहा गया था कि कक्षाएं सितंबर माह में खुल जाएंगी लेकिन कोरोनावायरस भू होती स्थिति के चलते सत्र को 2 महीने और आगे बढ़ा दिया गया है। 
मंगलवार को सर्वोच्च न्यायालय ने भी सीबीएसई को निर्देश दिए कि वे पूरक परीक्षाओं के परिणाम शीघ्र घोषित करें ताकि इन में सम्मिलित हुए दो लाख छात्र यूजीसी की प्रवेश परीक्षा में शामिल हो सकें। 

परीक्षाएं मार्च और अगस्त में

यूजीसी के एकाडमिक कैलेंडर के अनुसार पहले सेमेस्टर की परीक्षाएं आठ से 26 मार्च के बीच होंगी। वहीं दूसरे सेेमेस्टर की परीक्षाएं 9 से 21 अगस्त के बीच आयोजित की जाएंगी। दोनों परीक्षाओं के बाद एक-एक सप्ताह का सेमेस्टर ब्रेक दिया जाएगा। 30 अगस्त से 2021-22 का एकाडमिक सेशन शुरू होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!