29th November 2022

जिसे रेगिस्तान के टीले Nude Sexy Bums दिखते हों उसे मोदी ने बनाया सांस्कृतिक प्रतिनिधि

नई दिल्ली

सांस्कृतिक राष्ट्रवाद भारतीय जनता पार्टी की आधारभूत अवधारणा में शामिल है और इसके लिए भारतीय जनता पार्टी ने कई अवसरों पर सड़कों पर संघर्ष भी किया है लेकिन सत्ता मिलने के बाद पार्टी ने जिन लोगों को उपकृत किया है, उनकी इस अवधारणा कोई आस्था नहीं रही है वे केवल सत्ता का लाभ उठाने के लिए पार्टी के साथ जुड़े हैं। ऐसे ही एक व्यक्तित्व को नरेंद्र मोदी सरकार ने आईसीसीआर में सांस्कृतिक प्रतिनिधि बनाया है । मजे की बात तो यह है कि बॉलीवुड से जुड़ा यह व्यक्ति रेगिस्तान में बनने वाले रेत के टीले न्यूड सेक्सी bums (कूल्हे) की तरह दिखते हैं। ।

इस शख्स का नाम है विवेक अग्निहोत्री। मजे की बात तो यह है कि हेट स्टोरी जैसी सेमी पॉर्न फिल्म बनाने वाले विवेक अग्निहोत्री संघ के भी चहेते हो चुके हैं। वे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कई कार्यक्रमों में वक्ता के रूप में शामिल होते हैं और राष्ट्रवादी ब्रिगेड के डार्लिंग बने हुए हैं।  2014 में भारतीय जनता पार्टी के सत्ता में लौटने के बाद वर्षों तक इसकी विचारधारा को साथ लेकर संघर्ष कर रहे लोगों को लगा था कि शायद उनके दिन फिरेंगे लेकिन अचानक से नए हिंदूवादी पैदा हो गए।

खास बात तो यह है कि इन हिंदू वादियों के अतीत को भाजपा और संघ दोनों ने ही अनदेखा किया और अब हाल यह है कि पुराना कार्यकर्ता तो सत्ता को दूर से खड़ा होकर तक रहा है विवेक अग्निहोत्री जैसे लोग इसके मजे ले रहे हैं। अग्निहोत्री को मोदी सरकार पहले ही सेंसर बोर्ड का सदस्या नियुक्त कर चुकी है।

अग्निहोत्री की सांस्कृतिक विरासत की एक और बानगी देखिए और संभव हो तो भाजपा और संघ को भी दिखाईए। खासकर इस ट्ववीट के पीछे कमेंट भी पढ़िए।

कौन है विवेक अग्निहोत्री

विवेक अग्निहोत्री शुरुआत में पल्लवी जोशी के पति के रूप में जाने जाते थे।  2005 में उन्होंने चॉकलेट नाम की फिल्म का निर्देशन किया था इस फिल्म के हीरो थे सीरियल कीसर इमरान हाशमी। इस फिल्म की अभिनेत्री तनुश्री दत्ता ने अग्निहोत्री पर शोषण का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था कि अग्निहोत्री ने उन्हें बिना कपड़ों के नाचने के लिए कहा था। इस मामले में अग्निहोत्री ने अभिनेत्री को मानहानि का नोटिस दिया है। इसके बाद उन्होंने हेट स्टोरी नामक एक इरॉटिक ड्रामा बनाया।  यह फिल्म अपनी अश्लीलता की वजह से चर्चा में रही थी। इसके बाद अग्निहोत्री ने बुद्ध इन ए ट्रेफिक जाम और ताशकंद फाइल जैसी फिल्में बनाई। वे अपनी फिल्म बुद्ध इन ए ट्रेफिक जाम दिखाकर ही राष्ट्रवादी तमगा लगा कर घूम रहे हैं।

 ट्विटर ने सस्पेंड किया था अकाउंट

कुछ समय पूर्व फिल्म अभिनेत्री स्वरा भास्कर के ऊपर एक आपत्तिजनक ट्वीट करने के चलते ट्विटर ने उनका अकाउंट लॉक कर दिया था। बाद में उनके द्वारा माफी मांगे जाने और डिलीट किए जाने के बाद उनका अकाउंट रिस्टोर किया गया। इस ट्वीट में उन्होंने स्वरा भास्कर को लिखा था कि “Where is the placard – ‘#MeTooProstituteNun’?” इसका अर्थ यह लगाया गया था कि उन्होंने स्वरा भास्कर को प्रोस्टीट्यूट कहा है।

ये भी पढ़ें : नेट फ्लिक्स पर जारी रहेगी नंगई !

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!