ट्रायल में रही 91 प्रतिशत कारगर रही वेराफिन, जायडस ने है बनाई

नई दिल्ली .

कोरोना की महामारी गंभीर रूप से ले चुकी है। इसे देखते हुए सरकार ने जायडस फार्मा की वीराफिन के उपयोग पर सहमति दे दी है। इस दवा के बारे में कंपनी ने कहा है कि ट्रायल के दौरान यह दवा कोरोना के इलाज में 91 प्रतिशत कारगर साबित हुई है। कंपनी ने कहा है कि इस दवा का ट्रायल देश में 25 सेंटर्स पर किया गया है।

सात में ठीक हुए मरीज

जायडस ने दावा किया है कि वीराफिन (Virafin) के उपयोग से कोरोना मरीजों की आरटी-पीसीआर रिपोर्ट 7 दिन बाद निगेटिव आई है। ऐसा कोरोना के 91.15 प्रतिशत मरीजों के साथ हुआ है। कंपनी के अनुसार इस दवा से कोरोना के मरीजों को वायरस से लड़ने की ताकत मिलती है। अगर वायरस से संक्रमण के शुरुआती लक्षणों के बाद यह दवा मरीज को दी जाए तो उसे कोरोना से जल्दी ठीक होने में मदद मिलती है।

डीजीसीआई ने दी स्वीकृति

कोरोना के मरीजों के लिए इस दवा के उपयोग के लिए भारत सरकार के ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DGCI) ने स्वीकृति दे दी है। कहा जा रहा है कि यह दवा अस्पतालों में उपलब्ध कराई जाएगी। डॉक्टरों की सलाह के बाद इसे मरीजों को दिया जाएगा। इससे पहले रेमडेसिविर का इस्तेमाल कोरोना मरीजों के इलाज के लिए किया जा रहा था। यह मरीजों को कोरोना के गंभीर लक्षणों से बचाने में मदद करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!