26th June 2022

यूपी चुनाव में पांच लाख रुपए का इनामी आईपीएस अधिकारी बना योगी की मुसीबत

अखिलेष ने उठाए सवाल, एक व्यापारी को आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला है दर्ज

लखनऊ

कानपुर देहात में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेष यादव ने योगी आदित्यनाथ के यूपी में कानून और व्यवस्था दुरुस्त करने के बयान पर पलटवार किया। उन्होंने कहा कि कानून और व्यवस्था की बात करने वाले मुख्यमंत्री का एसपी फरार है। उन्होंने प्रश्न किया कि बताएं देश के किस राज्य में कौन सा आईपीएस फरार है? माना जा रहा है कि इसे यूपी में कथित रूप से हुई पुलिस ज्यादतियों से जोड़कर देखा जा रहा है। सरकार के लिए चिंता की बात ये है कि पाटीदार सिंतंबर 2020 से फरार है।

रंगदारी, आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में है फरार

अखिलेश यादव परोक्ष रूप से यूपी में फरार चल रहे आईपीएस अधिकारी मणिलाल पाटीदार (IPS Manilal Patidar) की बात कर रहे थे। मणिलाल पाटीदार यूपी के महोबा में एसपी के रूप में तैनात थे। पाटीदार पर यूपी के क्रशर व्यापारी इंद्रकांत तिवारी से पांच लाख रुपये रंगदारी मांगने और आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज है।

8 सितंबर 2020 को क्रशर कारोबारी को संदिग्ध परिस्थितियों में गोली लगी थी। कानपुर के एक प्राइवेट अस्पताल में इलाज के दौरान 13 सितंबर को उसकी मौत हो गई थी। केस दर्ज होने के बाद से महोबा का यह पूर्व एसपी फरार है। आय से अधिक संपत्ति के मामले में भी मणिलाल पाटीदार जांच में दोषी पाया जा चुका है। यूपी पुलिस की तरफ से आईपीएस पर एक लाख रुपये का इनाम भी रखा गया है।

राजस्थान में यूथ आईकॉन थे पाटीदार

मणिलाल पाटीदार राजस्थान के डूंगरपुर जनपद के सरौदा का रहने वाला है। पाटीदार भले ही आज फरार हो लेकिन यह अपने गांव व आसपास के युवाओं के लिए रोल मॉडल रह चुका है। मणिलाल पाटीदार महज 24 साल की उम्र में यूपीएससी में 188वीं रैंक हासिल कर आईपीएस बने थे। पाटीदार 2014 बैच के आईपीएस हैं। आय से अधिक संपत्ति मामले में पाटीदार की राजस्थान के सरौदा के साथ ही गुजरात में भी संपत्ति चिह्नित की गई है। आईपीएस मणिलाल ने राजस्थान में अपने पिता रामजी के नाम जमीन और फ्लैट भी खरीदा है।

इसके अलावा जमीन, दुकान समेत अन्य प्रॉपर्टी का भी पता लगा है। इनकी मार्केट वैल्यू करीब 50 से 60 करोड़ बताई गई है। पाटीदार के स्टेट बैंक ऑफ इंडिया और बैंक ऑफ बड़ौदा में दो अकाउंट का भी पता लगा। इनकी जांच के बाद पत्नी के अकाउंट में बड़ी रकम ट्रांसफर करने की जानकारी भी मिली थी।

नेपाल में छुपा है पाटीदार


फरार आईपीएस मणिलाल के नेपाल में छुपे होने का दावा भी सामने आया था। एक पुलिस अधिकारी ने दावा किया था कि फरार आईपीएस ने नेपाल में ही अपना ठिकाना बनाया हुआ है। यूपी पुलिस की एसटीएफ उसको गिरफ्तार करने में अभी तक नाकाम रही है। आईपीएस पाटीदार के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर भी जारी है। पुलिस ने सबसे पहले पाटीदार के खिलाफ गैर जमानती वॉरंट जारी करवाया था। इसके बावजूद आईपीएस ने ना तो सरेंडर किया ना ही पुलिस उसके गिरफ्तार कर सकी। मामले में हाईकोर्ट की नाराजगी के बाद आईपीएस पर एक लाख रुपये का इनाम भी घोषित किया जा चुका है। कोर्ट के आदेश के बाद पुलिस फरार आईपीएस के घर की कुर्की भी करा चुकी है

error: Content is protected !!