Goonj

Voice of the Students of India

हिंदी दिवस पर दुबई में काव्य शक्ति का आयोजन

कौसर भुट्टो, दुबई

संक्षिप्त कथन, हो भाव प्रबल,
हो अर्थ गहन और शब्द सरल,
जीवन रस का उनमें हो सार,
अच्छे काव्य के स्तंभ आधार।
स्नेहा देव

महिला काव्य मंच, मिडिल ईस्ट के वार्षिकोत्सव तथा अंतरराष्ट्रीय हिंदी दिवस व प्रवासी दिवस के अवसर पर महिला काव्य मंच द्वारा 13 जनवरी 2023 की शाम भारतीय वाणिज्य दूतावास, दुबई में ‘काव्य-शक्ति’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम की अध्यक्षता महिला काव्य मंच, यूएई की अध्यक्षा व विदेश सचिव (मिडिल ईस्ट), स्नेहा देव जी ने की। इस अवसर पर कार्यक्रम की मुख्य अतिथि दिल्ली से महिला काव्य मंच की राष्ट्रीय महासचिव श्रीमती रेनू हुसैन जी तथा विशिष्ट अतिथि के रूप में नेट बुक्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के चेयरमैन तथा मशहूर पत्रिका ‘अनुस्वार’ के संपादक डॉ संजीव कुमार जी व उनकी धर्मपत्नी मनोरमा जी तथा जयपुर से प्रसिद्ध कथाकार लक्ष्मी शर्मा जी उपस्थित रहे।

कार्यक्रम का संचालन मकाम, दुबई की सचिव कौसर भुट्टो तथा अनु बाफना द्वारा किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षा स्नेहा देव जी ने अपने स्वागत वक्तव्य में मकाम के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी साझा करते हुए बताया कि महिला काव्य मंच अभिव्यक्ति का एक ऐसा सुगठित मंच है जिसने हज़ारों महिलाओं के हाथ में क़लम थमा कर उनके मन को मंच प्रदान किया है। महिला काव्य मंच के संस्थापक आदरणीय नरेश गुप्ता ‘नाज सर’ ने वीडियो द्वारा कार्यक्रम के लिए आशीर्वाद व शुभकामनाएं प्रेषित की। कार्यक्रम का शुभारंभ डॉ संजीव कुमार जी तथा अन्य मान्यवरों के मां वीणापाणी को माल्यार्पण कर दीप प्रज्वलित कर किया गया। इस दौरान अनु बाफना द्वारा सरस्वती वंदना का गायन किया गया।

भारतीय वाणिज्य दूतावास की ओर से अतिथियों को प्रतीकात्मक उपहार भेंट किए गए। प्रख्यात चित्रकार व समाज सेविका कुसुम दत्ता जी तथा लक्ष्मी जी ने कार्यक्रम के लिए आशीर्वचन दिए। जेम्स फाउंडर विद्यालय, दुबई की छात्रा उन्नति भरत अग्रवाल ने नृत्य वंदना प्रस्तुत कर सबका मन मोह लिया। कार्यक्रम में कैलिफ़ोर्निया की संस्था ‘उपमा ग्लोबल’ एवं भारत तथा अमेरिका की ‘त्रिवेणी अंतरराष्ट्रीय संस्था’ द्वारा प्रकाशित पुस्तक ‘विजयी विश्व तिरंगा प्यारा’ का विमोचन अतिथियों द्वारा किया गया, जिसमें देश प्रेम व महात्मा गांधी के विषय पर 45 से अधिक देशों के राज नायक मंत्री व साहित्यकारों की रचनाएं सम्मिलित हैं।

इस पुस्तक का संपादन श्रीमती रितु प्रिया खरे व नीलू गुप्ता द्वारा किया गया है। इस पुस्तक में श्रीमती स्नेहा देव व यूएई के तीन अन्य रचनाकारों की रचनाएं सम्मिलित हैं। वाइस कौंसिल (खाता व वितरण अधिकारी), मंजू आहुजा जी ने कार्यक्रम के लिए बधाई देते हुए अपनी रचना प्रस्तुत की। कार्यक्रम में दुबई, शारजाह तथा आबूधाबी से आए कवियों ने हिस्सा लिया। मधुलिका, शत्रुजीत सिंह, सैयद मसूद नक़वी, शिव मोहन, निशा झा, अवधेश राणा, करुणा राठौर ‘टीना’, कौशल अवस्थी, वरिंदर पाल ‘बबली’, केतकी रैना, नितिन उपाध्ये, कमला प्रकाश ‘जॉली’, रोहन गोलवलकर, देवयानी ‘रानी’, अनु बाफना, डॉ. संजीव कुमार, स्नेहा देव समेत 18 कवियों ने मनमोहक काव्य पाठ कर इस शाम को सजाया।

कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि संजीव कुमार जी ने संप्रत्ति इंडिया नेटबुक्स तथा पत्रिका ‘अनुस्वार’ के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी साझा की तथा अपनी रचना भी प्रस्तुत की। सभी कवियों को भारतीय दूतावास की ओर से प्रशस्ति पत्र व अजमल परफ्यूम्स तथा हिमालया समूह की ओर से उपहार भेंट किए गए। मशहूर पत्रिका ‘अनुस्वार’ की ओर से नितिन उपाध्ये, स्नेहा देव, मधुलिका, तथा कुसुम दत्ता जी को सम्मानित किया गया। डॉ संजीव कुमार जी ने अपनी चर्चित पुस्तक ‘आज की मधुशाला’ कवियों को भेंट की।

सर्वश्रेष्ठ महिला काव्य मंच मिड्ल ईस्ट, इकाई का खिताब बहरेन को दिया गया। कवयित्री मधुलिका को सर्वश्रेष्ठ कार्यकर्ता, मकाम 2022 का सम्मान दिया गया। कार्यक्रम के अंत में श्रीमती स्नेहा देव जी ने सबका धन्यवाद ज्ञापन किया। इस तरह यह ऐतिहासिक, भव्य तथा यादगार कार्यक्रम सबको सुनहरी यादें देकर संपन्न हुआ।

error: Content is protected !!