24th April 2024

महिला दिवस पर मोदी ने इंफोसिस संस्थापक नारायण मूर्ति की पत्नी को दी राज्यसभा की गिफ्ट

2024 का अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस इंफोसिस के संस्थापक नारायण मूर्ति की पत्नी तथा ब्रिटिश प्रधानमंत्री ऋषि सुनक की सास सुधा मूर्ति के लिए यादगार बन गया है। इसी दिन राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने उन्हें राज्य सभा के लिए नामांकित किया है। इस ऐलान के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें बधाई देते हुए उनके सफल संसदीय कार्यकाल की कामना की है। सुधा मूर्ति ‘मूर्ति ट्रस्ट’ की अध्यक्ष भी हैं और उनकी पहचान एक लेखिका के रूप में भी है। उन्होंने कई किताबें लिखी हैं।

पीएम मोदी ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर पोस्ट करके सुधा मूर्ति को बधाई दी है। उन्होंने लिखा, ‘मुझे ख़ुशी है कि भारत के राष्ट्रपति ने श्रीमति सुधा मूर्ति को राज्यसभा में नामांकित किया है। सामाजिक कार्यों, परोपकार और शिक्षा सहित विविध क्षेत्रों में सुधाजी का योगदान अतुलनीय और प्रेरणादायक रहा है। राज्यसभा में उनकी उपस्थिति हमारी ‘नारी शक्ति’ का एक शक्तिशाली प्रमाण है, जो हमारे देश की नियति को आकार देने में महिलाओं की ताकत और क्षमता का उदाहरण है. उनके सफल संसदीय कार्यकाल की कामना करता हूं।

राष्ट्रपति को संसद के उच्च सदन में कला, साहित्य, विज्ञान और सामाजिक सेवाओं में उत्कृष्ठ योगदान के लिए 12 सदस्यों को मनोनीत करने का अधिकार है। हालांकि राष्ट्रपति इस अधिकार का उपयोग केन्द्र सरकार की सलाह पर करते हैं। इन मनोनीत सांसदों को शेष निर्वाचित सांसदों के बराबर अधिकार की मिलते हैं।
73 वर्षीय सुधा मूर्ति को 2006 में पद्म श्री पुरस्कार और 2023 में पद्म भूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। वे ब्रिटिश प्रधानमंत्री ऋषि सुनक की सासु मां भी हैं। सुधा मूर्ति अपनी सामान्य जीवन शैली के लिए जानी जाती हैं। उनके एक उपन्यास पर डॉलर बहू के नाम से टेलीविजन सीरियल भी बन चुका है।

error: Content is protected !!