5th December 2022

चीन में फ्लू का एक नया वायरस मिला, यह भी ले सकता है कोरोना की तरह महामारी का रूप

स्वाइन फ्लू के वायरस से मिलता जुलता है ये वायरस

कोरोना के बाद चीन में वैज्ञानिकों को फ्लू का एक नया वायरस मिला है। इसे स्वाइन फ्लू से मिलता-जुलता बताया जा रहा है और कहा जा रहा है कि यह भी कोरोना की तरह महामारी का रूप ले सकता है। स्वाइन फ्लू के वायरस की तरह ही इसे भी सूअरों में पाया गया है। वैज्ञानिकों का कहना है कि यह वायरस भी विकसित होने के पश्चात महामारी का रूप ले सकता है हालांकि इससे अभी चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है लेकिन उन्होंने चेतावनी दी है कि भविष्य में यह भी एक परेशानी खड़ी कर सकता है।

 वैज्ञानिकों का कहना है कि नया वायरस होने के चलते ऐसे लोगों जिनमें या तो इम्यूनिटी नहीं है या फिर इम्यूनिटी है तो भी वह इस नए वायरस के विरुद्ध कितनी कारगर होगी यह कहना मुश्किल है। इसके बारे में प्रोसीडिंग ऑफ नेशनल एकेडमी ऑफ साइंस नाम की मैगजीन ने प्रकाशित किया गया है। इस वायरस को स्वरों में निवास करने का प्रयास किया जा रहा है बाद में इस उद्योग में काम करने वाले लोगों पर भी लगातार निगाह रखी जा रही है। क्योंकि यह इन्हीं के द्वारा मनुष्य में फैल सकता है । 

2009 में फैला था स्वाइन फ्लू

यह वायरस उस वायरस से मिलता-जुलता है जो कि 2009 में फैला था। लेकिन स्वाइन फ्लू की महामारी ने उतना नुकसान नहीं पहुंचाया था क्योंकि मनुष्य में उपस्थित इम्यूनिटी सिस्टम ने इसे उतना प्रभावी नहीं होने दिया था जितना कि कोरोनावायरस हो गया है। इसका अध्ययन करने वाले डॉ किन चाओ चांग का कहना है कि फिलहाल यह वायरस कोई समस्या नहीं है लेकिन यह भविष्य में समस्या न बने इसके चलते इस पर सतत निगरानी किए जाने की आवश्यकता है। इस वायरस का नाम G4 EA H1N1  रखा गया है। डॉ चांग इंग्लैंड की नाटिंघम यूनिवर्सिटी में काम करते हैं। 

ये भी पढ़ें चाईनीज नहीं है मप्र, महाराष्ट्र, तमिलनाडु और तेलंगाना का कोरोना वायरस

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!