2nd March 2024

 पत्नी अक्षता के कारण विवादों में फंसे ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक, जांच शुरू

हाल के बजट में एक चाइल्डकेयर एजेंसी को लाभ मिला, जिसमें सुनक की पत्नी शेयरधारक हैं

लंदन: 

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक अपनी पत्नी के चलते मुश्किलों में फंस गए हैं। उन पर आरोप है कि उन्होंने एक चाइल्डकेयर फर्म में अपनी पत्नी अक्षता के शेयर्स को घोषित नहीं किया है। यह फर्म उन छह चाइल्डकेयर फर्मों में से है जिन्हें कि पिछले माह ब्रिटेन के बजट में चाइल्डमाइंडर्स बनने के लिए सरकार की ओर से राशि प्रदान करने की घोषणा की गई थी। बजट में चाइल्डमाइंडर्स बनने के लिए प्रस्तावित पायलट योजना बनाई गई है, इसमें इन एजेंसी के माध्यम से प्रशिक्षण लेने वालों को 1,200 पाउंड दिए जाने की घोषणा की गई है। बताया जा रहा है कि ब्रिटिश संसद के आयुक्त ने गुरुवार से सुनक के खिलाफ इस मामले में जांच शुरू कर दी है।

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक की जांच ब्रिटेन की संसद के आयुक्त द्वारा की जा रही है. द गार्जियन की रिपोर्ट के अनुसार, ब्रिटिश संसद के आयुक्त की वेबसाइट पर कहा गया है कि, आयुक्त डेनियल ग्रीनबर्ग ने पिछले सप्ताह गुरुवार को प्रधानमंत्री के खिलाफ जांच शुरू की है। बताया गया है कि यह मामला सांसदों के लिए बनाई गई आचार संहिता के पैरा छह से संबंधित है, इसमें कहा गया है कि उन्हें ‘सदन या इसकी समितियों की किसी भी कार्यवाही में किसी भी अपने प्रासंगिक हित की घोषणा करने में हमेशा खुला और स्पष्ट होना चाहिए’। सुनक की पत्नी, अक्षता मूर्ति, कोरू किड्स में शेयरधारक के रूप में सूचीबद्ध हैं, जो छह निजी चाइल्डकेयर प्रदाताओं में से एक है, जिन्हें पिछले महीने के बजट में लोगों को चाइल्डमाइंडर्स बनने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए कोरू किड्एस जेंसी के माध्यम से प्रशिक्षण लेने वालों को 1,200 पाउंड की पेशकश की गई है।

सुनक ने नहीं दी जानकारी

बताया गया है कि 28 मार्च को, सुनक ने संसद की संपर्क समिति के सामने चाइल्डकेयर में बदलाव के बारे में बोलते समय अपनी पत्नी के हितों का उल्लेख नहीं किया। उनसे लेबर एमपी कैथरीन मैककिनेल ने पूछा था कि क्या उनके पास इस संबंध में सार्घोवजनिक करने के लिए कुछ है? इस पर उन्होंने मैककिनेल से कहा- ‘नहीं, मैने सभी आवश्यक बातोंं का खुलासा कर दिया है।’ द गार्जियन ने बताया- बाद में यह सामने आया कि सुनक की समिति की उपस्थिति के कुछ घंटों बाद कंपनी के बॉस डाउनिंग स्ट्रीट रिसेप्शन में शामिल हुए।

डाउनिंग स्ट्रीट ने दिया यह तर्क

माना जाता है कि मैककिनेल ने संसद केआयुक्त के समक्ष इस मुद्दे को उठाया था। सुनक ने सांसद के रूप में अपने हितों के रजिस्टर में अपनी पत्नी की शेयरधारिता को नहीं बताया है, इसे सांसदों को तुरंत अपडेट करना जरुरी होता है। डाउनिंग स्ट्रीट ने तर्क दिया है कि यह आवश्यक नहीं है, क्योंकि सुनक ने मंत्रिस्तरीय हितों के एक अलग रजिस्टर में इसका हवाला दिया था। हालांकि, यह अभी तक प्रकाशित नहीं हुआ है, क्योंकि यह अभी भी मंत्रिस्तरीय हितों पर नए सलाहकार लॉरी मैग्नस द्वारा संकलित किया जा रहा है।

error: Content is protected !!