12th April 2024

नहीं फहराया गया श्रीनगर के लाल चौक पर तिरंगा,फेक फोटो की गई वाइरल

0

श्रीनगर. गूंज रिपोर्टर

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर श्रीनगर के लाल चौक में लहराते तिरंगे के चित्र वाइरल हुए। इसे बड़ी-बड़ी सेलिब्रिटी ने भी पोस्ट किया। हर तरफ इनकी चर्चा थी। लेकिन इसके पीछे की वास्तविता कुछ और ही है। लाल चौक में इस स्वतंत्रता दिवस पर कोई भी झंडा नहीं फहराया गया है। न भारत का और न ही कोई और। बताया गया है कि सोशल मीडिया पर वाइरल की गई फोटो फोटोशॉप्ड है। यह किसी की शैतानी है।

श्रीनगर का लाल चौक राजनीतिक गतिविधियों का केन्द्र रहा है। नब्बे के दशक में भाजपा के तत्कालीन अध्यक्ष मुरली मनोहर जोशी ने भी श्रीनगर के इसी लाल चौक में तिरंगा फहराने के लिए तिरंगा यात्रा निकाली थी इसी प्रकार की यात्रा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने भी निकाली थी।

लाल चौक में फहराते तिरंगे का फोटो कहांं से आया इस बारे में कोई जानकारी नहीं है. लेकिन बताया जा रहा है कि इसे सबसे भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने पोस्ट किया है। इसके बाद लद्दाख भाजपा के अध्यक्ष और सांसद जामयांग त्सेरिंंग नामग्याल ने भी पोस्ट किया। हालांकि किसी भी समाचार पत्र ने इस बारे कोई समाचार नहीं जारी किया क्योंकि ऐसा हुआ ही नहीं है।

इन पोस्ट में दो फोटो शेयर किए गए थे। एक फोटो को पुराना फोटो बताया गया था जिसमें कि लाल चौक में पाकिस्तानी झंडा फहरा रहा है, वहीं दूसरा फोटो इस साल का बताते हुए लिखा गया था कि धारा 370 हटने का असर है कि इस बार लाल चौक में भी तिरंगा लहरा रहा है।

22 जून 2010 के फोटो में की गई है छेड़छाड़

सबसे खास बात यह है कि जिस फोटो में तिरंगा लहराता दिखाया जा रहा है वो दस साल से भी ज्यादा पुरानी है। लाल चौक की यह फोटो 22 जून 2010 को ली गई थी और उस समय इस फोटो में कोई भी झंडा नहीं था। इस फोटो केे साथ छेड़छाड़ कर इसमें झंडा जोड़ा गया है। हालांकि यह सच है कि आंतक के दौर में लाल चौक में 14 अगस्त को पाकिस्तानी ध्वज फहराए जाते थे। इसका पता इस बात से भी चलता है कि फोटो में जो भवन दिखाया गया है उसका रंग अब बदलकर सफेद हो चुका है। इस तरह से इस फर्जीवाड़े में अकल का उपयोग भी नहीं किया गया।

चलिए उम्मीद करते हैं कि अगले स्वतंत्रता दिवस पर लाल चौक में तिरंगा फहराएगा।

इसे भी पढ़ें –Online Classes से अकेलेपन की ओर बढ़ रहे बच्चे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!