9th December 2022

मध्यप्रदेश का युवक 25 दिन में 1400 किमी पैदल चल दिल्ली से झारखंड पंहुचा

गुड्डू ठाकुर जो पैदल दिल्ली से झारखंड चला गया

देश में कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने के बाद देश के विभिन्न इलाकों से दिल्ली में मजदूरी करने पहुंचे श्रमिको के पैदल ही अपने अपने गृह राज्य पहुंचने के वीडियो और फोटो वायरल हो रहे हैं। इसी तरह दिल्ली में मजदूरी करने वाला मध्य प्रदेश का एक युवक 3 मार्च को यानी कोरोनावायरस का संक्रमण शुरू होने से पहले दिल्ली से पैदल ही मध्य प्रदेश स्थित अपने गांव के लिए निकला। और 25 दिनों की यात्रा के बाद वह मध्य प्रदेश की बजाए झारखंड पहुंच गया।

इस युवक ने दिल्ली से रेलवे लाइन पर चलते-चलते इस करीब 1400 किलोमीटर का सफर तय किया है। उसने बताया कि इस दौरान कुछ जगहों पर लोगों ने इसे भोजन कराया, तो कहीं से लोगों ने डांटकर भगा भी दिया। शुक्रवार को जब वह चितरपुर प्रखंड के बड़कीपोना पहुंचा, तो ग्रामीणों को उसकी दशा पर दया आ गयी. लोगों ने उसे भोजन कराया. इसके बाद पुलिस के हवाले कर दिया।

इस युवक ने अपना नाम गुड्डू ठाकुर बताया है। उसने कहा कि वह दिल्ली में काम करता था। पैसे खत्म हो गये, तो वह अपने गांव के लिए निकल पड़ा। उसका गांव मध्यप्रदेश में है। ट्रेन का टिकट कटाने के पैसे नहीं थे। सो वह रेल लाइन के किनारे-किनारे ही चलता गया।

गुड्डू ठाकुर हर दिन अपने सफर पर चलता रहा। चलते-चलते शुक्रवार को वह बड़कीपोना पहुंच गया। यहां कुछ लोगों की नजर उस पर पड़ी। लोगों ने उससे गहन पूछताछ की और ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को भी दी। घटना की सूचना मिलने पर रजरप्पा थाना की एएसआइ मालती कुमारी दल-बल के साथ वहां पहुंचीं और युवक से पूछताछ की।

एएसआइ ने बताया कि युवक यहां कैसे पहुंचा, इसकी जांच-पड़ताल की जा रही है। इस बीच, युवक को देखने के लिए भारी संख्या में लोग पहुंच रहे हैं। इस संदर्भ में चितरपुर के प्रखंड विकास पदाधिकारी (बीडीओ) हुलास महतो ने बताया कि इसकी सूचना मिली है। रामगढ़ सदर अस्पताल में युवक की जांच कराने के बाद उच्चाधिकारियों के निर्देश पर रामगढ़ नगर परिषद के रैन बसेरा में रखा जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!