27th November 2022

‘मैं मोदी जी की रैली के लिए निकली तो TMC के गुंडों ने हमला किया ..’

एक बार फिर एक जैसे ट्वीट को लेकर आईटी सेल सवालों के दायरे में

कोलकाता.

मैं हावड़ा बंगाल से हूँ आज जब मैं मोदी जी रैली के लिए पापा के साथ निकली तो TMC के गुंडों ने हमारी कार पे पत्थरों से हमला किया, जिसमें चोट आई और मेरे सर पे 3 टांके लगे हैं !!
पर मैं उनको बता दूं मैं अब भी मोदी जी के साथ हूँ आखिरी सांस तक रहूंगी !!

यह वह रेडीमेड ट्वीट है जो बंगाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली के बाद ट्विटर पर पोस्ट किया जा रहा है। कमाल की बात यह है कि मोदी जी की रैली के लिए दर्जनों लड़कियां अपने पापा के साथ निकली उन सभी पर टीएमसी के गुंडों ने हमला किया और सभी को तीन तीन टांके ही आए हैं। इस तरह का सहयोग दुनिया के इतिहास में किसी भी राजनीतिक रैली में नहीं हुआ होगा। तभी याद आता है आईटी सेल है तो मुमकिन है। 

ऐसा पहली बार नहीं हुआ है किस तरह का रेडीमेड ट्वीट सोशल मीडिया पर वायरल हुआ हो। इसके पहले 26 जनवरी को नई दिल्ली में हुई किसानों के ट्रैक्टर रैली के बाद भी एक रेडीमेड पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी। इस पोस्ट पर भी गूंज ने एक स्टोरी की थी। इस स्टोरी को आप यहां पढ़ सकते हैं। इस स्टोरी में भी कहा गया था कि एक महिला पत्रकार के साथ कथित किसानों ने बदतमीजी की थी।

 इस बार भी इसी तरह बंगाल में मोदी की रैली के बाद यह ट्वीट दर्जनों टि्वटर हैंडल से पोस्ट किया गया है। इन्हें आप फोटो में देख सकते हैं। इतना ही नहीं कई टि्वटर यूजर्स इस मामले को समझ गए और उन्होंने इस तरह की पोस्ट करने वाले ट्विटर हैंडल पर मजेदार कमेंट किए हैं और कुछ नहीं तो इसकी पैरोडी ट्वीट भी बना ली है जैसे 

सुब्रमण्यन स्वामी ने लगाया था आरोप

भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने कुछ दिनों पहले भाजपा के आईटी सेल प्रभारी अमित मालवीय के ऊपर उन्हें ट्रोल करने को लेकर गंभीर आरोप लगाए थे। डॉ स्वामी ने उन्हें हटाए जाने की मांग भी की थी। वही अमित मालवीय बंगाल में भाजपा के सह प्रभारी भी हैं। इतना ही नहीं डॉ स्वामी ने हाल ही में प्रधानमंत्री कार्यालय के एक अधिकारी पर उनकी छवि खराब करने को लेकर पेड ट्वीट कराने का आरोप भी लगाया था। पिछले कुछ समय से भाजपा के आईटी सेल सवालों के दायरे में है। 

पुष्टि नहीं कर सकते

हम यह स्पष्ट कर देना चाहते हैं कि हम तकनीकी रूप से इतने सक्षम नहीं है कि हम इस बात की पुष्टि कर सकें कि यह ट्वीट आईटी सेल ने ही चलाया है। लेकिन जिन टि्वटर हैंडल से से इसे पोस्ट किया गया है उनमें अधिकांश पोस्ट भाजपा के समर्थन की ही दिखाई देती हैं। सभी राजनीतिक दलों की आईटी सेल बड़ी संख्या में फेक आईडी का इस्तेमाल भी करती हैं। इनका सत्यापन करना हमारे लिए संभव नहीं है। लेकिन इस मामले में आमजन को समझदारी दिखाने की जरूरत है। 

1 thought on “‘मैं मोदी जी की रैली के लिए निकली तो TMC के गुंडों ने हमला किया ..’

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!