12th April 2024

बैटरी वाला मास्क, जो 90 डिग्री तक गर्म होकर मारता है कोरोना वायरस को

0

Goonj Report.

कोरोनावायरस को सांस में जाने से रोकने का काम मास्क के जिम्मे है लेकिन अब बैटरी चली तक ऐसा मास्क आया है जो कि कोरोनावायरस को सांस के जरिए शरीर में जाने से रोकने की बजाय इसे समाप्त ही कर देगा। इसके लिए इस मास्क में एक कॉपर की जाली लगाई गई है जोकि बैटरी से बिजली लेकर 90 डिग्री सेल्सियस तक गर्म होती है। इतने तापमान पर मात्र की सतह पर आया कोरोनावायरस जीवित नहीं रह पाता। 

Mask Design

यह मास्क अमेरिका की मैसाचुसेट्स यूनिवर्सिटी की लेबोरेटरी में तैयार किया गया है। सामान्यतः कोरोनावायरस मास्क के कपड़े में से सांस के जरिए शरीर में जा सकते हैं। इसके चलते इस बैटरी चलित मास्क में जो कॉपर की जाली लगाई गई है वह गर्म होती है। इस जाली को नियोप्रेन के मटेरियल से इंसुलेट कर दिया जाता है जिससे कि कॉपर की जाली का टेंपरेचर मास्क पहनने वाले को महसूस नहीं होता है। इस मटेरियल से निकलकर जो वायरस कॉपर की जाली तक पहुंचता है वह जाली के टेंपरेचर से मर जाता है और इस तरह से वायरस शरीर में प्रवेश नहीं कर पाता है।

 हालांकि अभी इस मास्क का व्यवसायिक उत्पादन प्रारंभ नहीं हुआ है लेकिन इसे बनाने वाली टीम का कहना है कि इसकी लागत दूसरे सर्जिकल मास्क और n95 जैसे मास्टर की तुलना में ज्यादा होगी। इस मास्क की खास बात यह होगी के उपयोग के पश्चात इसे फेंकने की बजाय इसे बार-बार उपयोग के लिए स्टेरलाइज किया जा सकेगा। यानी कि इसे लंबी अवधि तक उपयोग में लाया जा सकेगा। 

अलग डिजाइन है मास्क की

इस मास्क काइस मास्क का डिजाइन परंपरागत मास्टर की तुलना में अलग है और शोधकर्ताओं ने इसके डिजाइन का पेटेंट कराने की कार्रवाई शुरू कर दी है। इसके तहत इससे मिलते-जुलते डिजाइन भी पेटेंट कराए जाएंगे ताकि जो भी कंपनी इसका व्यवसायिक उत्पादन शुरू करेगी उसका इस मास्क पर एकाधिकार बना रहे। इस मार्ग पर सैमुअल फॉशर और माइकल स्ट्रेनों की टीम ने काम किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!