28th November 2022

लॉकडाउन में कुत्ता घुमाने की छूट थी तो कुत्ते पाल लिए, अब छोड़ रहे शेल्टर होम में 

मामला साइप्रस का शेल्टर होम पहुंचे 3000 से ज्यादा कुत्ते

निकोसिया

यूरोपियन देश साइप्रस में डॉग शेल्टर होम छोड़े गए पालतू कुत्तों से भरे हुए हैं। इन शेल्टर होम्स में अब कुत्तों के लिए जगह नहीं बची है। बताया जा रहा है कि साइप्रस के लोगों ने 2020 और 2021 के लॉकडाउन के समय जो कुत्ते पाले थे वे अब उन्हें छोड़ रहे हैं। उस समय इन लोगों ने डॉग्स को इसलिए अडॉप्ट किए थे क्योंकि साइप्रस में कड़े lock-down प्रावधानों में कुत्तों को घुमाने के लिए बाहर जाने की छूट थी। इस छूट का फायदा उठाने के लिए बहुत से लोगों ने पेट डॉग्स रख लिए थे लेकिन अब उनका पेट इन डॉग्स से भर चुका है। 

डॉग रेस्क्यू साइप्रस की Monica Mitsidou ने कहा कि कई ऐसे लोगों ने डॉग पाल लिए जिन्हें कि नहीं पलने चाहिए थे। अब साइप्रस के डॉग शेल्टर इन छोड़े गए पेट्स से भरे हुए हैं। 

PAWS (Cyprus Association for the Protection and Care of Animals की वॉलिंटियर Evita Charalambous ने कहा कि यह आर्थिक स्थिति और ब्रेक्जिट का असर है कि डॉग्स के एडॉप्शन कम हो रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि लोगों के अपने डॉग्स को Neuter नहीं कराने और पेट फ्रेंडली अपार्टमेंट की कमी के चलते भी समस्या गंभीर हुई है। 

Saving Pound Dogs Cyprus (SPDC) की Constantina Constantinou ने कहा कि ब्रेक्जिट का भी इस पर असर हुआ है। साइप्रस के बहुत से डॉग ब्रिटेन में अडॉप्ट किए जाते थे लेकिन अब ब्रिटेन के यूरोपियन यूनियन से बाहर हो जाने के बाद ऐसा नहीं हो पा रहा है। 

Simba Animal Aid Cyprus की Andreas Tsavellas ने कहा कि आर्थिक संकट के चलते सड़कों पर भी कुत्ते बढ़ते जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि स्थानीय नगरपालिका हर सप्ताह लगभग 20 स्ट्रीट डॉग्स को उनके रेस्क्यू सेंटर पर छोड़कर जाती है। कुल मिलाकर अभी साइप्रस के रेस्क्यू सेंटर पर 3000 से ज्यादा कुत्ते अडॉप्ट किए जाने का रास्ता देख रहे हैं। कुल मिलाकर एनिमल वेलफेयर के वॉलिंटियर्स इस स्थिति से बहुत चिंतित हैं। वे चाहते हैं कि सरकार इस दिशा में कुछ कानून बनाए ताकि शेल्टर होम्स छोड़े जाने वाले कुत्तों की संख्या में कमी आए।

error: Content is protected !!