5th December 2022

‘आरएसएस स्वयंसेवक की उपेक्षा करोगे तो कभी नहीं जीतोगे’

भाजपा को सुब्रमण्यन स्वामी की सलाह

नई दिल्ली

तेजतर्रार नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रह्मण्यन स्वामी ने एक न्यूज़ चैनल के साथ बातचीत में कहा कि कार्यकर्ता बिना पैसे के काम करता है। संघ के कार्यकर्ता लगातार क्षेत्र में सक्रिय होते हैं वहां शाखा चलाते हैं ऐसे में वह क्षेत्र के बारे में सबसे ज्यादा जानते हैं यदि उनकी उपेक्षा करेंगे तो पार्टी कभी नहीं जीतेगी। 

सुब्रमण्यन स्वामी ने साक्षात्कार में आगे कहा कि भारतीय जनता पार्टी की पूंजी उसका हिंदुत्व है। यदि पार्टी हिंदुत्व की उपेक्षा करेगी तो कांग्रेस बन जाएगी। डॉ स्वामी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी का जन्म ही हिंदुत्व से हुआ है। इसके चलते पार्टी को याद रखना चाहिए कि हमारी पार्टी की मूल धारा हिंदुत्व होना चाहिए।

इससे हट जाओगे तो कार्यकर्ता नाराज हो जाएगा। डॉ स्वामी ने अटल बिहारी वाजपेई का उदाहरण देते हुए कहा कि वाजपेई बहुत लोकप्रिय प्रधानमंत्री थे। इसलिए हारे क्योंकि कार्यकर्ता ने काम नहीं किया। इसके चलते कार्यकर्ता की चिंता होनी चाहिए। 

किसी भी लफंगे को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बना दिया

बंगाल की हार और उसके बाद टीएमसी से आए नेताओं के वापस लौटने के बारे में बोलते हुए डॉ स्वामी ने कहा कि जो टीएमसी से आए थे, वे वापस जा रहे हैं। यहां तक कि कई लोग तो टीएमसी कार्यालय के बाहर धरना दे रहे हैं कि हमें वापस लो। मुकुल राय भी चले गए आपने उन्हें राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया था। आपकी राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पद की कोई वैल्यू नहीं कि कोई भी लफंगा है और उसे दे दो। डॉ स्वामी ने एक बार फिर दोहराया कि कार्यकर्ता की उपेक्षा करोगे तो ऐसा ही होगा।

 क्या होगा 2024 में

2024 के आम चुनावों के बारे में पूछे जाने पर  कि क्या तब तक राहुल गांधी मजबूत विपक्षी चेहरे के रूप में उतरेंगे स्वामी ने कहा कि अभी 3 साल बचे हुए हैं। 1 महीने में बहुत कुछ बदल जाता है। हो सकता है जब तक राहुल गांधी और सोनिया गांधी नेशनल हेराल्ड के केस में जेल चले जाएं। डॉ स्वामी ने कहा कि वह केस में लड़ रहा हूं सरकार नहीं लड़ रही है। इसके पहले मैं जयललिता शशिकला और चिदंबरम को भी जेल भेज चुका हूं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!