23rd April 2024

हर बात को ऑनलाइन सर्च करने से बचें, लिंक के माध्यम से हो रहे बैंक खाते हैक

0

गूगल पर सर्च करने की प्रवृत्ति का फायदा उठा रहे हैकर

डिजीटल टाइम मेंं बहुत से यूजर छोटी-छोटी जानकारियां भी गूगल पर सर्च करते हैं और हैकर इसी का फायदा उठा रहे हैं। हाल ही इंदौर के एक पत्रकार ने बस का टिकट बुक कराने के लिए गूगल पर सर्च किया। वहां पर टिकट बुकिंग के लिए जो नंबर मिला उसने टिकट का दाम बताया और ऑनलाइन टिकट बुकिंग के लिए एक लिंक भेजने की बात की। लिंक रिसीव होने पर पत्रकार ने जैसे ही उसे क्लिक किया तो उन्हें पता चला कि टिकट बुकिंग को एक तरफ उल्टे खाते से 26 हजार रुपए गायब हो गए। खाता हैक करने का यह नया तरीका है। इसके चलते डिजीटल होने में सावधानी रखें।

यह इस तरह का अकेला उदाहरण नहीं हैं। इस तरह की घटनाएं देश के कईं हिस्सों में हुई हैं। हाल ही में लखनऊ में एक गृहिणी ने गैस बुक करने के लिए अपनी गैस एजेंंसी का नंबर गूगल पर सर्च किया। जो नंबर आया उस कॉल करने पर उसी तरह से लिंक भेजने की बात की गई और लिंक पर क्लिक करते ही खाते से 28300 रुपए गायब हो गए।

आशियाना की एलडीए कॉलोनी निवासी चेतन लांबा के 29 नवंबर को गूगल पर कृष्णानगर स्थित गैस एजेंसी का नंबर सर्च किया। तीन नंबर मिलने के बाद बुकिंग के लिए एक नंबर मिलाया। कॉल रिसीव करने वाले ने प्रक्रिया समझाते हुए लिंक भेजने की बात कही। मोबाइल पर आए लिंक को क्लिक करने के बाद उसमें मांगी गई जानकारी भरी। पीड़त के अनुसार इसके कुछ ही देर में खाते से 28 हजार 300 रुपये कट गए। इसके बाद पीड़ित शिकायत करने कृष्णानगर स्थित शीला गैस एजेंसी पहुंचे। पता चला कि गूगल पर मिला नंबर गलत था। इसके बाद पीड़ित ने बैंक को जानकारी देने के साथ ही साइबर क्राइम सेल के साथ ही आशियाना थाने पहुंच रिपोर्ट दर्ज करवाई है।

त्रिवेणीनगर के शिवपुरम निवासी अभिषेक मिश्रा को पेटीएम का केवाईसी करने का झांसा देकर साइबर जालसाजों ने चपत लगा दी। अलीगंज पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर मोबाइल नंबर की मदद से छानबीन शुरू कर दी है। पीड़ित के अनुसार शनिवार को एक कॉल आई। फोन करने वाले ने पेटीएम का केवाईसी करने के लिए एक लिंक भेजने की बात कही। लिंक पर क्लिक करने के बाद ब्योरा भरने के कुछ ही देर में बैंक खाते से बीस हजार रुपये निकल गए। आईसीआईसीआई बैंक से रुपये निकलने का मेसेज आने पर पीड़ित ने रिपोर्ट दर्ज करवाई है।

इस तरह से यह ऑनलाइन ठगी का नया तरीका बन गया है। इसके चलते किसी भी अनजान व्यक्ति द्वारा भेजी गई किसी भी लिंक पर जानकारी न शेयर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!